महात्मा गाँधी से जुड़ी रोचक जानकारियाँ- गाँधी जयंती विशेष Interesting facts about Mahatma Gandhi - BABAJIFANCLUB

Hot

Sunday, 1 October 2017

महात्मा गाँधी से जुड़ी रोचक जानकारियाँ- गाँधी जयंती विशेष Interesting facts about Mahatma Gandhi


  • संयुक्त राष्ट्र ने गांधी जी के जन्म दिन 2 अक्टूबर को विश्व अहिंसा दिवस (world non-violence day) घोषित किया है।
  • मोदी सरकार ने अक्टूबर गाँधी जयंती को स्वच्छता दिवस के रूप में मनाने का निर्णय किया है।
  • गाँधी जी को राष्ट्रपिता की उपाधि सुभाष चन्द्र बोस ने दी थी।
  • महात्मा गांधी को महात्मा की उपाधि रवीन्द्र नाथ टैगोर ने दी थी और रवीन्द्र नाथ टैगोर को गुरुदेव की उपाधि गांधी जी ने दी थी।
  • मई 1883 में साढ़े 13 साल की आयु पूर्ण करते ही उनका विवाह 14 साल की कस्तूरबा से कर दिया गया। मोहनदास और कस्तूरबा के चार सन्तान हुईं जो सभी पुत्र थे।
  • गाँधी  जी को जीवन में 5 बार नोबल पुरूस्कार के लिए नामांकित किया गया था। किन्तु 1948 में पुरूस्कार मिलने से पहले ही उनकी हत्या हो गई। फलस्वरूप नोबल कमेटी ने पुरुस्कार उस साल किसी को भी नहीं दिया।
  • 1999 में गांधी जी को टाइम्स मैगजीन द्वारा आइंस्टीन के बाद उन्नीसवीं सदी का दूसरा सबसे प्रभावशाली व्यक्ति चुना गया।
  • गांधी जी प्रसिद्ध रूसी लेखक लियो टॉल्स्टोय के मित्र थे और उनके साथ हमेशा पत्र-व्यवहार करते रहते थे।
  • एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स महात्मा गांधी के एक प्रशंसक थे।
  • 1913 से 1938 तक वे लगभग 79000 किलोमीटर चले, जो लगभग पृथ्वी का दो बार चक्कर लगाने के बराबर है।
  • उन्होंने अपनी मृत्यु के एक दिन पहले कांग्रेस को भंग (dissolve) करने का सोचा था।
  • गाँधी जी गौ रक्षा कानून के समर्थक थे।
  • ग्रेट ब्रिटेन, वह देश जिसके खिलाफ महात्मा गांधी ने स्वतंत्रता की लड़ाई लड़ी, उसी देश ने गांधी जी की मृत्यु के 21 साल बाद उनके सम्मान में एक डाक टिकट जारी किया।
  • गांधी जी ने अपनी आत्मकथा " स्टोरी ऑफ़ माय एक्सपेरिमेंट्स विथ ट्रुथ " (The Story of My Experiments with Truth) में दर्शन और अपने जीवन के मार्ग का वर्णन किया है।
  • गांधी जी का शुक्रवार (Friday) के साथ एक अजीब संयोग था। उनका जन्म शुक्रवार को हुआ था, भारत को स्वतंत्रता शुक्रवार को मिली और इसके साथ-साथ गांधी जी की हत्या भी शुक्रवार को ही की हुई।
  • भारत की 53 प्रमुख सड़कों और दुनिया के अन्य हिस्सों की लगभग 48 सड़कों का नाम "महात्मा गांधी रोड" है।
  • उन्होने भारत और दक्षिणी अफरीका में एक संपादक के तौर पर हरिजन, Indian Opinion(दक्षिणी अफरीका) और युवा भारत सहित कई समाचार पत्रो का हिन्दी, अंग्रेजी और गुजराती भाषा में संपादन किया है.
  • गाँधी जी को गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को एक के बाद एक 3 गोलियां मारी अन्तिम समय में गाँधी जी के मुंह से निकला “हे राम”

No comments:

Post a comment