कैसे रखें अपने दिल को बीमारियों से दूर - एक्सपर्ट एडवाइस: HEALTHY TIPS - BABAJIFANCLUB

Hot

Wednesday, 4 October 2017

कैसे रखें अपने दिल को बीमारियों से दूर - एक्सपर्ट एडवाइस: HEALTHY TIPS


हमारे शरीर में ह्रदय यानि दिल सबसे महत्वपूर्ण भाग है ,क्यूँकि दिल ही शरीर के अन्य भागों में शुद्ध रक्त पहुँचाने का काम करता है। अगर आपका दिल स्वस्थ है तो ये मानिये की आप स्वस्थ हैं। आज की इस भाग दौड़ भरी ज़िंदगी में सबसे चुनौती भरा काम है दिल और शरीर को स्वस्थ रखना। अगर आपका ह्रदय स्वस्थ नहीं है तो हार्ट अटैक या हृदयाघात के अवसर बढ़ जाते हैं और यह हृदयाघात मौत का एक प्रमुख कारण हो सकता है।

हृदय (दिल) की समस्याओं से बचने के लिए हमें आज एक स्वस्थ जीवन शैली अपनानी चाहिये। ये ५ तरीके आपको किसी भी दिल की बीमारी से बचाये रखने में कारगर साबित हो सकते हैं। 

१. ज्यादा से ज्यादा शाकाहारी भोजन को महत्व देना - आयुर्वेद में मांसाहार को कई रोगों का कारण बताया गया है जबकि शाकाहार को एंटी ऑक्सीडेंट और मिनरल्स का भरपूर स्रोत बताया गया है।  डॉक्टर्स की सलाह यही होती है की ह्रदय रोग से दूर रहने के लिए ज्यादा से ज्यादा एंटी ऑक्सीडेंट, मिनरल्स ,फाइबर्स तथा विटामिन्स का आहार लिया जाए। इसके लिए पपीता , गाजर ,पालक ,ब्रोंकली ,संतरे ,राजमा और अन्य हरी सब्जियों का सेवन महत्वपूर्ण हो जाता है। 

२. जल्दी सोना और जल्दी उठना - देर रात तक लैपटॉप में काम करना ,पूरी नींद न लेना आपके हृदयाघात का कारण बन सकता है. इसलिए डॉक्टर्स की सलाह होती है की रात को जल्दी सोना चाहिए और सुबह सूरज निकलने के पहले बिस्तर छोड़ देना चाहिए और कम से कम छह घंटे की नींद लेनी चाहिए। 

३. नियमित व्यायाम - नियमित आधे घंटे का व्यायाम करने से हार्ट अटैक के अवसर ९९ % तक कम हो जाते हैं।  नियमित व्यायाम करने से हार्ट ब्लॉकेज की समस्या भी दूर की जा सकती है। 

४. धूम्रपान और तम्बाकू उत्पादों से दूरी - धूम्रपान या किसी भी तरह का तम्बाकू उत्पाद हार्ट अटैक तथा अन्य बीमारियों का कारण बन सकता है। आज के दौर में धूम्रपान एक बहुत बड़ी समस्या है । शुरू में आदमी धूम्रपान उत्साह से करता है पर बाद में यह बुरी आदत में बदल जाता है ।सिगरेट के धुएं का निकोटीन हृदय की रक्त वाहिनियों  को संकीर्ण बनाकर, हृदय गति और ब्लड प्रेशर को बढ़ा कर हृदय के काम को कठिन बनाता है। धूम्रपान करने वाले व्यक्ति को कोशिश करनी चाहिए की वह इस बुरी आदत से जल्दी से जल्दी मुक्ति पा ले। 

५. शरीर का वजन नियंत्रित होना - सामान्यतः यह देखा गया है कि मोटापा ही सभी ह्रदय रोगों का कारण बनता है। कोलेस्ट्रॉल और फैट की बढ़ी हुई मात्रा से  हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट अटैक को बुलावा मिलता है इसलिए व्यक्ति को अपना वजन नियंत्रित रखना चाहिए। 

No comments:

Post a comment